मो. रफी हिन्दी गीत

ओ मेरी महबूबा महबूबा महबूबा

O meri mehbooba lyrics in hindi

ओ मेरी महबूबा महबूबा महबूबा,
तुझे जाना है तो जा तेरी मर्ज़ी मेरा क्या,
पर देख तू जो रूठ कर चली जाएगी,
तेरे साथ ही मेरे मरने की ख़बर जाएगी,
ओ मेरी महबूबा महबूबा महबूबा,
तुझे जाना है तो जा तेरी मर्ज़ी मेरा क्या,
पर देख तू जो रूठ कर चली जाएगी,
तेरे साथ ही मेरे मरने की ख़बर जाएगी,
ओ मेरी महबूबा महबूबा महबूबा,
तुझे जाना है तो जा तेरी मर्ज़ी मेरा क्या…..

तेरी चाहत मेरा चैन चुराएगी,
तेरी चाहत मेरा चैन चुराएगी,
लेकिन तुझको भी तो नींद ना आएगी,
मैं तो मर जाऊँगा लेकर नाम तेरा,
नाम मगर कर जाऊँगा बदनाम तेरा,
तौबा तौबा फिर क्या होगा,
के याद मेरी दिल तेरा तड़पाएगी,
तेरे जाते ही तेरे आने की ख़बर आएगी,
ओ मेरी महबूबा महबूबा महबूबा,
तुझे जाना है तो जा तेरी मर्ज़ी मेरा क्या…..

जो भी हो मेरी इस प्रेम कहानी का,
जो भी हो मेरी इस प्रेम कहानी का,
पर क्या होगा तेरी मस्त जवानी का,
आशिक़ हूँ मैं तेरे दिल में रहता हूँ,
अपनी नहीं मैं तेरे दिल की कहता हूँ,
तौबा तौबा फिर क्या होगा,
के बाद में तू इक रोज़ पछताएगी,
ये रुत प्यार की जुदाई में ही गुज़र जाएगी,
ओ मेरी महबूबा महबूबा महबूबा,
तुझे जाना है तो जा तेरी मर्ज़ी मेरा क्या…..

दीवाना मस्ताना मौसम आया है,
दीवाना मस्ताना मौसम आया है,
ऐसे में तूने दिल को धड़काया है,
माना अपनी जगह पे तू भी क़ातिल है,
पर यारों से तेरा बचना मुश्किल है,
तौबा तौबा फिर क्या होगा,
के प्यार में नज़र जब टकराएगी,
तड़पती हुई मेरी जान तू नज़र आएगी,
ओ मेरी महबूबा महबूबा महबूबा,
तुझे जाना है तो जा तेरी मर्ज़ी मेरा क्या,
पर देख तू जो रूठ कर चली जाएगी,
तेरे साथ ही मेरे मरने की ख़बर जाएगी,
ओ मेरी महबूबा महबूबा महबूबा,
तुझे जाना है तो जा तेरी मर्ज़ी मेरा क्या।

O meri mehbooba lyrics in english

O meri mehbooba mehbooba mehbooba,
Tujhe jana hai to ja teri marji mera kya,
Par dekh tu jo ruth kar chali jayegi,
Tere saath hi mere marne ki khabar jaayegi,
O meri mehbooba mehbooba mehbooba,
Tujhe jana hai to ja teri marji mera kya,
Par dekh tu jo ruth kar chali jayegi,
Tere saath hi mere marne ki khabar jaayegi,
O meri mehbooba mehbooba mehbooba,
Tujhe jana hai to ja teri marji mera kya…..

Teri chahat mera chain churayegi,
Teri chahat mera chain churayegi,
Lekin tujhko bhi to nind na aayegi,
Mai to mar jaunga lekar naam tera,
Naam mgar kar jaunga badnaam tera,
Tauba tauba fir kya hoga,
Ke yaad meri dil tera tadpayegi,
Tere jaate hi tere aane ki khabar aayegi,
O meri mehbooba mehbooba mehbooba,
Tujhe jana hai to ja teri marji mera kya…..

Jo bhi ho meri is prem kahani ka,
Jo bhi ho meri is prem kahani ka,
Par kya hoga teri mast jawani ka,
Aashiq hu mai tere dil me rahta hu,
Apni nahi mai tere dil ki kahta hu,
Tauba tauba fir kya hoga,
Ke baad me tu ik roj pachhtayegi,
Ye rut pyar ki judaai me hi gujar jaayegi,
O meri mehbooba mehbooba mehbooba,
Tujhe jana hai to ja teri marji mera kya…..

Deewana mastana mausam aaya hai,
Deewana mastana mausam aaya hai,
Aise me tune dil ko dhadkaya hai,
Maana apni jagah pe tu bhi kaatil hai,
Par yaaron se tera bachna mushkil hai,
Tauba tauba fir kya hoga,
Ke pyaar me najar jab takrayegi,
Tadapti huyi meri jaan tu najar aayegi,
O meri mehbooba mehbooba mehbooba,
Tujhe jana hai to ja teri marji mera kya,
Par dekh tu jo ruth kar chali jayegi,
Tere saath hi mere marne ki khabar jaayegi,
O meri mehbooba mehbooba mehbooba,
Tujhe jana hai to ja teri marji mera kya.

Leave a Reply

Your email address will not be published.