शैलेंद्र सिंह हिन्दी गीत

Mai shayar to nahi – मैं शायर तो नहीं

Main shayar to nahi lyrics in hindi

मैं शायर तो नहीं,
मैं शायर तो नहीं,
मगर ए हसीन,
जब से देखा मैंने तुझको मुझको,
शायरी आ गयी,
मैं शायर तो नहीं,
मगर ए हसीन,
जब से देखा मैंने तुझको मुझको,
शायरी आ गयी,
मैं आशिक तो नहीं,
मगर ए हसीन,
जब से देखा मैंने तुझको मुझको,
आशिक़ी आ गयी,
मैं शायर तो नहीं…..

प्यार का नाम मैंने सुना था मगर,
प्यार क्या है ये मुझको नहीं थी खबर,
प्यार का नाम मैंने सुना था मगर,
प्यार क्या है ये मुझको नहीं थी खबर,
मैं तो उलझा रहा,
उलझनों की तरह,
दोस्तों में रहा दुश्मनों की तरह,
मैं दुश्मन तो नहीं,
मैं दुश्मन तो नहीं,
मगर ए हसीन, जब से देखा,
मैंने तुझको मुझको,
दोस्ती आ गयी,
मैं शायर तो नहीं…..

सोचता हूँ अगर मैं दुआ मांगता,
हाथ अपने उठा कर मैं क्या माँगता,
सोचता हूँ अगर मैं दुआ मांगता,
हाथ अपने उठा कर मैं क्या माँगता,
जब से तुझसे मोहोब्बत मैं करने लगा,
तब से जैसे इबादत मैं करने लगा,
मैं काफ़िर तो नहीं,
मैं काफ़िर तो नहीं,
मगर ए हसीन,
जब से देखा मैंने तुझको मुझको,
बंदगी आ गयी,
मैं शायर तो नहीं,
मगर ए हसीन, जब से देखा,
मैंने तुझको मुझको शायरी आ गयी,
मैं शायर तो नहीं।

Main shayar to nahi lyrics in english

Mai shayar to nahi,
Mai shayar to nahi,
Magar e haseen, Jab se dekha,
Maine tujhko Mujhko,
Shayari aa gayi,
Mai shayar to nahi,
Magar e haseen, Jab se dekha,
Maine tujhko Mujhko,
Shayari aa gayi,
Mai aashiq to nahi,
Magar e haseen, Jab se dekha,
Maine tujhko mujhko,
Aashiqi aa gayi,
Mai Shayar to nahi…..

Pyaar ka naam maine,
Suna tha magar,
Pyaar kya hai ye mujhko,
Nahi thi khabar,
Pyaar ka naam maine,
Suna tha magar,
Pyaar kya hai ye mujhko,
Nahi thi khabar,
Mai to uljha raha,
Uljhano ki tarah,
Doston me raha dushmano ki tarah,
Mai dushman to nahi,
Mai dushman to nahi,
Magar e haseen, Jab se dekha,
Maine tujhko mujhko,
Dosti aa gayi,
Mai shayar to nahi…..

Sochta hu agar main,
Duaa mangta,
Haath apne utha kar,
Mai kya maangta,
Sochta hu agar main,
Duaa mangta,
Haath apne utha kar,
Mai kya maangta,
Jab se tujhse,
Mohabbat mai karne laga,
Tab se jaise,
Ibadat mai karne laga,
Mai kaafir to nahi,
Mai kaafir to nahi,
Magar e haseen,
Jab se dekha,
Maine tujhko mujhko,
Bandagi aa gayi,
Mai shayar to nahi,
Magar e haseen,jab se dekha,
Maine tujhko mujhko,
Shayari aa gayi,
Mai shayar to nahi.

Leave a Reply

Your email address will not be published.