मो. रफी लता मंगेशकर हिन्दी गीत

दीवाने हैं दीवानों को ना घर चाहिए

Deewane hain deewanon ko na ghar chahiye lyrics in hindi

आपके दिल में जो थोड़ी सी जगह मिल जाये,
अपने अरमानों की बेताब कली खिल जाये…..

दीवाने हैं दीवानों को ना घर चाहिए,
ना दर चाहिए,
मोहब्बत भरी इक नज़र चाहिए,
नज़र चाहिए,
(जवानी में जवानी के सहारे हो जवाँ,
मेरे महरबाँ,
मुझे तू ही तू हमसफ़र चाहिए,
हमसफ़र चाहिए,)
दीवाने हैं दीवानों को ना घर चाहिए,
ना दर चाहिए,
मोहब्बत भरी इक नज़र चाहिए,
नज़र चाहिए…..

है सर पे हमारे, खुला आसमान,
खुला आसमान,
है सर पे हमारे, खुला आसमान,
खुला आसमान,
(हमारे लिए है यही आशियाँ,
यही आशियाँ,)
बिना प्यार के ज़िन्दगी कुछ नहीं,
बिना प्यार के ज़िन्दगी कुछ नहीं,
जहाँ प्यार है हर ख़ुशी है वहीं.
(हो फूलों भरी चाहे,चाहे काँटों भरी,
हाँ काँटों भरी,
चले जिस में तू वो डगर चाहिए,
डगर चाहिए,)
दीवाने हैं दीवानों को ना घर चाहिए,
ना दर चाहिए,
मोहब्बत भरी इक नज़र चाहिए,
नज़र चाहिए…..

निगाहों में ऐसे इशारे हुए,
इशारे हुए,
निगाहों में ऐसे इशारे हुए,
इशारे हुए,
(के दिल ने कहा हम तुम्हारे हुए,
तुम्हारे हुए,)
नज़र बन गयी है ज़ुबां प्यार में,
नज़र बन गयी है ज़ुबां प्यार में,
मज़ा आ गया जीत का हार में,
(मिलेगा वही मांगोगे जो दिलदार से,
मगर प्यार से,
दुआओं में अपनी असर चाहिए,
असर चाहिए,)
दीवाने हैं दीवानों को ना घर चाहिए,
ना दर चाहिए,
मोहब्बत भरी इक नज़र चाहिए,
नज़र चाहिए,
जवानी में जवानी के सहारे हो जवाँ,
मेरे महरबाँ,
मुझे तू ही तू हमसफ़र चाहिए,
हमसफ़र चाहिए

Deewane hain deewanon ko na ghar chahiye lyrics in english

Aapke dil me jo thodi si jagah mil jaaye,
Apne armaanon ki betaab kali khil jaate…..

Deewane hain deewanon ko na ghar chahiye,
Na dar chahiye,
Mohabbat bhari ik najar chahiye,
Najar chahiye,
(Jawaani me jawaani ke sahare ho jawaan,
Mere meherbaan,
Mujhe tu hi tu humsafar chahiye,
Humsafar chahiye,)
Deewane hain deewanon ko na ghar chahiye,
Na dar chahiye,
Mohabbat bhari ik najar chahiye,
Najar chahiye…..

Hai sar pe hamare, khula aasmaan,
Khula aasmaan,
Hai sar pe hamare, khula aasmaan,
Khula aasmaan,
(Hamare liye hai yahi aashiyaan,
Yahi aashiyaan,)
Bina pyaar ke jindgi kuchh nahi,
Bina pyaar ke jindgi kuchh nahi,
Jahan pyaar hai har khushi hai wahin,
(Ho phoolon bhari chahe, chahe kaanton bhari,
Haan kaanton bhari,
Chale jis me tu wo dagar chahiye,
Dagar chahiye,)
Deewane hain deewanon ko na ghar chahiye,
Na dar chahiye,
Mohabbat bhari ik najar chahiye,
Najar chahiye…..

Nigaahon me aise ishare huye,
ishare huye,
Nigaahon me aise ishare huye,
ishare huye,
(Ke dil ne kaha hum tumhare huye,
Tumhare huye,)
Najar ban gayi hai jubaan pyaar me,
Najar ban gayi hai jubaan pyaar me,
Maja aa gaya jeet ka haar me,
(Milega wahi maangoge jo dildaar se,
Magar pyaar se,
Duaaon me apni asar chahiye,
Asar chahiye,)
Deewane hain deewanon ko na ghar chahiye,
Na dar chahiye,
Mohabbat bhari ik najar chahiye,
Najar chahiye,
Jawaani me jawaani ke sahare ho jawaan,
Mere meherbaan,
Mujhe tu hi tu humsafar chahiye,
Humsafar chahiye.

Leave a Reply

Your email address will not be published.